जिले के सम्पूर्ण विकास खंडों में छात्रवृति की होगी जांच

गुना । कलेक्‍टर कुमार पुरूषोत्‍तम के निर्देशानुसार जिले के सम्पूर्ण विकास खंडों में छात्रवृति की जॉच किया जाना है। विकासखंड वार छात्रवृति की जॉच किये जाने उन्‍होंने जॉच दल गठित किए हैं। गठित दल में उन्‍होंने विकास खंड शिक्षा अधिकारी एच.एन.जाटव प्राचार्य/ गुना, ए.डी.पी.सी आर.एम.एस.ए जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय आशीष टॉटिया, प्रभारी प्राचार्य शा उत्कृष्ट उ.मा.वि आसिफ खॉन, प्राथमिक शिक्षक (कम्प्यूटर ऑपरेटर) संकुल केन्द्र शा.बा.उ.मा.वि. केन्ट दीपेश दुवे तथा सहा.ग्रेड-3 जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय अमित रघुवंशी कि तैनाती की गयी है।
जारी आदेश में उन्‍होंने जॉच हेतु विकास खंड वार तिथियाँ निर्धारित की है। निर्धारित तिथियों में विकास खंड चॉचौड़ा हेतु 10 फरवरी 2021 से 12 फरवरी 2021, विकास खंड राघोगढ़ हेतु 13 से 15 फरवरी 2021, विकास खंड गुना हेतु 16 से 18 फरवरी 2021, विकास खंड बमौरी हेतु 20 से 21 फरवरी 2021 तथा विकास खंड आरोन हेतु 22 से 23 फरवरी 2021 तिथि निर्धारित की है। उन्‍होंने जॉच दल को विकास खंडों का जॉच प्रतिवेदन अभिमत सहित 26 फरवरी 2021 तक कार्यालय में प्रस्तुत किये जाने हेतु आदेशित किया है।

परीक्षाओं के आवेदन पत्र भरने के लिए विलम्ब शुल्क में रियायत देने का निर्णय

गुना । माध्यमिक शिक्षा मण्डल मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए छात्र हित में शैक्षणिक सत्र 2020-21 की परीक्षाओं के आवेदन पत्र आनलाईन भरने हेतु पूर्व निर्धारित विलम्ब शुल्क में रियायत देने का निर्णय लिया है। माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा 20 फरवरी तक आवेदन करने पर विलम्ब शुल्क 2 हजार रूपये, 10 मार्च तक आवेदन करने पर विलम्ब शुल्क 5 हजार रूपये तथा परीक्षा प्रारंभ होने के एक माह पूर्व अर्थात 29 मार्च तक आवेदन करने पर विलम्ब शुल्क 10 हजार रूपए निर्धारित किया है। नियमित शुल्क पूर्वानुसार ही रहेंगी। माध्यमिक शिक्षा मण्डल के अनुसार परीक्षाएं 29 अप्रैल से प्रारंभ होना संभावित है। इस संबंध में उन्होंने समस्त विकासखण्ड शिक्षा अधिकारियों एवं विकासखण्ड स्त्रोत समन्वयकों को निर्देश दिए है कि वे अपने क्षेत्र के अधिक से अधिक छात्रों को इस बारे में अवगत करा करा इसका लाभ लेने के लिए प्रेरित करें। 

प्रदेश के दो शिक्षक राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2020 से सम्मानित, मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं स्कूल शिक्षा मंत्री श्री परमार ने दी बधाई

गुना ।   मध्यप्रदेश के दो शिक्षकों, मोहम्मद शाहिद अंसारी और संजय कुमार जैन को प्रतिष्ठित राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया है। भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने ऑनलाइन कार्यक्रम के माध्यम से पुरस्कार प्रदान किये। इस अवसर पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ और शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे सहित मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) इन्दर सिंह परमार ने दोनों शिक्षकों को बधाई दी है।
शिक्षक मोहम्मद शाहिद अंसारी को गणित पढ़ाने में उनकी प्रभावशीलता के लिए सम्मानित किया गया है। वे शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, खिरसाडोह, परासिया छिंदवाड़ा के शिक्षक हैं और पिछले 14 वर्षों से गणित पढ़ा रहे हैं। उन्होंने गणित में कई प्रभावी शिक्षण सहायक सामग्री और शिक्षण अधिगम सामग्री का नवाचार किया है जिसे व्यापक रूप से अपनाया गया है। उन्होंने अन्य शिक्षकों और कक्षा 9 और 10 के छात्रों के लिए सार्वजनिक डोमेन में 300 से अधिक वीडियो डाले हैं। उन्होंने छात्रों को शैक्षिक वीडियो दिखाने के लिए अपने स्कूल में एक सौर ऊर्जा संचालित प्रोजेक्टर भी बनाया है।
दूसरे पुरस्कार विजेता शिक्षक संजय कुमार जैन शासकीय बालिका प्राथमिक शाला, डूंडा, टीकमगढ़ के शिक्षक हैं। वे एक उच्च प्रेरित और प्रतिबद्ध शिक्षक हैं जिन्होंने मध्य प्रदेश के दूरदराज क्षेत्र में अच्छे बुनियादी ढांचे के साथ एक स्कूल बनाने के लिए कड़ी मेहनत की है। प्रभावी सामुदायिक सहायता की मदद से उन्होंने स्कूल में छात्र दर्ज संख्या को सफलतापूर्वक बढ़ाया है। उन्होंने स्कूल में फर्श, दीवारों और खुले स्थानों का उपयोग करके कई शिक्षण- प्रशिक्षण प्रथाओं का नवाचार किया है। उन्होंने शिक्षण सहायक सामग्री के रूप में आसपास के पत्थर और कंकर का उपयोग किया है।
उल्लेखनीय है कि देश के कुछ बेहतरीन शिक्षकों के अनूठे योगदान की सराहना करने और उन शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए शिक्षक दिवस पर शिक्षकों को राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार दिए जाते हैं, जिन्होंने अपनी प्रतिबद्धता के माध्यम से न केवल स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया है, बल्कि अपने छात्रों के जीवन को समृद्ध बनाया है। शिक्षकों द्वारा ऑनलाइन पोर्टल  के माध्यम से स्व-नामांकन किया गया था। उम्मीदवारों को जिला और राज्य स्तरों पर जांच के आधार पर शॉर्टलिस्ट किया गया था तथा पुरस्कारों के लिए अंतिम चयन राष्ट्रीय स्तर पर एक स्वतंत्र जूरी द्वारा किया गया था। जूरी ने वर्ष 2020 के लिए 47 शिक्षकों का चयन किया है।

वेतन अनुसार शिक्षकों को पदनाम के आदेश जारी करने को लेकर प्रदेश अध्यक्ष को सौंपा ज्ञापन

गुना । मध्य प्रदेश समग्र शिक्षक संघ एवं राज्य कर्मचारी संघ जिला गुना प्रदेश अध्यक्ष बी.डी. शर्मा को शिक्षकों के वेतन अनुसार पदनाम के आदेश जारी करने  की मांग करते हुए ज्ञापन सौंपा ज्ञातव्य है कि मुख्यमंत्री महोदय द्वारा 2017 में शिक्षकों की पदनाम की घोषणा की गई थी तथा उसके बाद ही  मुख्यमंत्री द्वारा अनेक बार शिक्षकों को पदनाम देने की घोषणा की जा चुकी है जिसके आदेश अभी तक जारी नहीं किए गए हैं। उसी मांग को लेकर  समग्र शिक्षक संघ के  प्रदेश अध्यक्ष सुरेश दुबे की नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में जिला अध्यक्ष राधेश्याम शर्मा एवं समग्र शिक्षक संघ के प्रतिनिधि मंडल  तथा राज्य कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष अनिल भार्गव एवं राज्य कर्मचारी संघ का प्रतिनिधि मंडल ने पदनाम को लेकर ज्ञापन सोते हुए  अध्यक्ष को बताया कि शिक्षकों का नियुक्ति दिनांक से आज दिनांक तक कोई भी प्रमोशन नहीं किया गया है और बहुत से शिक्षक अपने जिस पद पर नियुक्त हुए थे उसी पद पर सेवानिवृत्त हो गए हैं इसलिए शिक्षकों को पदनाम के आदेश यथाशीघ्र जारी किए जाएं। यदि शीघ्र आदेश प्रसारित किए जाते हैं तो इस पर शासन को कोई वित्तीय भार नहीं आएगा तथा इनके पदनाम वरिष्ठ पद पर  किए जाने से शासन को करोड़ों रुपए का वित्तीय लाभ प्राप्त होगा क्योंकि सहायक शिक्षक के पद रिक्त होने पर शासन को प्राथमिक शिक्षक पर ही  नवीन नियुक्ति करनी होगी अभी लेक्चरर एवं शिक्षक पद का वेतन लेने वाले सहायक शिक्षक प्राथमिक विद्यालय में कार्यरत है जबकि उनका वेतन वरिष्ठ पद का  दिया जा रहा है तथा कनिष्ठ पद पर कार्य कर रहे हैं ।पदनाम के आदेश जारी किए जाते हैं तो सरकार को प्राथमिक शिक्षक की ही भर्ती करनी होगी जिसमें शासन को बहुत बड़ा वित्तीय लाभ मिलेगा। ज्ञापन देने में अनिल भार्गव, राधेश्याम शर्मा सुरेंद्र सिंह चौहान,रामकृष्ण शर्मा, ,राजेंद्र रघुवंशी,राजेश शर्मा नरेंद्र माथुर रामगोपाल साहू ,वृन्दावन प्रसाद पुष्पंध, केशव बैरागी,कमलेश  राजेंद्र रघुवंशी श्रीवास्तब,अनिल परमार,सचिन शर्मा,रामदयाल कुशवाह,चन्द्र शेखर कुशवाह,श्यामलाल कुशवाह,नरेंद्र बैरागी,भानुप्रताप सिंह,  नरेंद्र श्रीवास्तव बमोरी महेंद्र रघुवंशी गुना गोपाल कृष्ण भारद्वाज गुना यशवंत शर्मा आदि उपस्थित रहे।

स्कूल के मनमाने रवैये के खिलाफ लामबंद हुऐ अभिभावक

गुना । शहर का प्रसिद्ध स्कूल क्राइस्ट सीनियर सेकेंडरी स्कूल जो कि ऑनलाइन पढ़ाई करा रहे हैं साथ ही उन्होंने एक मैसेज के माध्यम से सभी अभिभावकों को बताया कि सितंबर माह के आखिरी हफ्ते में बच्चों का ऑनलाइन टेस्ट लिया जाएगा इस बात से नाराज अभिभावक आज इकट्ठा होकर स्कूल परिसर पहुंचे जहां काफी देर जद्दोजहद करने के बाद भी प्रिंसिपल की हठधर्मिता देखने को मिली अभिभावकों का आरोप है कि काफी देर से स्कूल परिसर में खड़े हैं और प्रिंसिपल को बाहर बात करने के लिए बुला रहे हैं l लेकिन प्रिंसिपल ने बाहर आने से साफ मना कर दिया अभिभावकों का आरोप है कि पहले तो बच्चों को पूरी तरह से अंग्रेजी में ऑनलाइन क्लासेस लेने के लिए मजबूर किया जा रहा है जबकि छोटे बच्चे इतनी ज्यादा अंग्रेजी एकदम नहीं समझ सकते वही दूसरा यह भी आरोप लगाया की बच्चों की ड्रेस है उसको पहनने के बाद बच्चों स्किन डिसीसिस हो रहे हैं साथ ही साथ यह भी आरोप लगाया कि कोरोना के चलते सभी अभिभावक आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहे हैं और ऐसे में स्कूल प्रशासन की तरफ से फीस जमा करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है जिसके चलते परीक्षाओं का आयोजन ऑनलाइन किया जा रहा है अभिभावकों ने एक सुर में जिला प्रशासन से मांग की कि यदि स्कूल की मान्यता रद्द नहीं की जाती और अभिभावकों के साथ न्याय नहीं होता तो वह हिंसक प्रदर्शन को छोड़कर हर तरह का प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे जिसका जिम्मेदार जिला प्रशासन और स्थानीय क्राइस्ट स्कूल होगा आपको बता दें कि अभिभावक तकरीबन 2 घंटे बाहर खड़े रहे लेकिन बाहर आने जहमत तक नहीं उठाई वही अपनी एक शिक्षिका के माध्यम से खबर भेजी थी वह अभी बात नहीं कर पाएंगे अब देखने लायक होगा कि जिला प्रशासन इस मामले पर क्या ठोस कार्यवाही कर आभिभावकों को न्याय दिलोएगा ।

डी.एल.एड का प्रवेश पंजीयन प्रारंभ

गुना ।  प्राचार्य जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्‍थान बजरंगगढ़ एस.के. वशिष्‍ठ द्वारा दी गयी जानकारी अनुसार राज्य शिक्षा केन्द्र भोपाल के निर्देशानुसार प्रदेश में संचालित शासकीय एवं अशासकीय शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानों में डी.एल.एड. प्रथम वर्ष (2020-2021) का पंजीयन एमपी ऑनलाईन/ कियोस्क सेन्टर के माध्यम से प्रारंभ हो गया है। प्रवेश पंजीयन हेतु अंतिम तिथि 23 अगस्त 2020 निर्धारित है। उन्‍होंने बताया कि इच्छुक छात्र-छात्राएं अपने मूल दस्तावेज जिसमें कक्षा 10वीं एवं 12वीं की मार्कशीट आय, जाति प्रमाण पत्र, मूल निवासी, तथा आधार कार्ड एवं दो पासपोर्ट साइज फोटो के साथ अपने निकट के एमपी ऑनलाईन /कियोस्क सेन्टर से सम्पर्क कर अपना पंजीयन करा सकते है। यह समस्त प्रक्रिया ऑनलाईन के माध्यम से ही सम्पन्न की जाएगी।

राधेश्याम शर्मा बने समग्र शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष, जिले के सभी शिक्षकों ने दी बधाई

गुना । समग्र शिक्षक संघ ग्वालियर संभाग की संभागीय शाखा ग्वालियर अध्यक्ष आर एस ठाकुर द्वारा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश चंद दुबे के अनुमोदन पर तथा गुना जिला के समग्र शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष राजेंद्र सिंह रघुवंशी की अनुशंसा एवं समग्र इकाई के पदाधिकारियों की सहमति से  जिला गुना  के समग्र शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष पद पर राधेश्याम शर्मा शिक्षक माध्यमिक विद्यालय खड़कपुर विकासखंड बमोरी को नियुक्त किया गया है राधेश्याम शर्मा ने समस्त जिला इकाई के पदाधिकारियों का संभाग के समग्र शिक्षक संघ के पदाधिकारियों का एवं प्रदेश स्तर के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश दुबे संभागीय अध्यक्ष आर एस ठाकुर प्रांतीय पदाधिकारी संजय तिवारी  सहित समस्त पदाधिकारियों का आभार व्यक्त किया है राधेश्याम शर्मा के जिलाध्यक्ष मनोनीत होने पर गुना जिला के समग्र शिक्षक संघ के राजेंद्र सिंह रघुवंशी विश्वजीत सिंह सिसोदिया नरेंद्र माथुर देवेंद्र सुमन नवल मिश्रा गौरी शंकर गुप्ता प्रदुम्न सोनी यशवंत शर्मा महेंद्र रघुवंशी योगेश शर्मा राघोगढ़ तुलसीदास दुबे बमोरी घनश्याम यादव  झागर बृजेश शर्मा अनिल भार्गव गुना नवल मिश्रा रामस्वरूप सेन शरीफ मोहम्मद डाइट गुना श्याम लाल धाकड़ संतोष नामदेव परमानंद किरार  सहायक शिक्षक झागर बमोरी अशोक भार्गव पोरू खेड़ी राधेश्याम श्रीवास्तव झागर गौरी शंकर गुप्ता रामदयाल कुशवाहा चंद्रशेखर कुशवाह  देवेंद्र सिंह सुमन  शुभकामनाएं प्रेषित की हैं ।

डिजीलेप ग्रुप में एवं अन्य माध्यमों से शिक्षण में संस्कृत भाषा की उपेक्षा से प्रदेश के बच्चों को हो रहा नुकसान

गुना । कोरोना काल में राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा अप्रैल माह से शासन द्वारा डिजिटल प्लेटफार्म पर प्रदेश के कक्षा 1 से 8 एवं अन्य उच्च कक्षाओं का शिक्षण किया जारहा है।माध्यमिक अर्थात कक्षा 6 से आठ में संस्कृत भी मध्यप्रदेश में एक भाषा के रूप में है। डिजीलेप हिंदी,अंग्रेजी, विज्ञान,गणित, सामाजिक विज्ञान विषयों के वीडियो लिंक हैं परंतु जो भाषा देववाणी है,कई भाषाओं की जननी है, ज्ञान-विज्ञान,गणित, जीवन के संस्कारों से समृद्ध है,जिस भाषा ने मध्यप्रदेश से भारत का शेक्सपियर कवि श्रेष्ठ कालिदास दिया; ऐसी भाषा का शिक्षण के पाठ्यक्रम में होते हुए भी ऐसा हाल हो रहा है जैसे सभी भाषाओं  की माता अनाथालय में पड़ी हो।ऐसी स्थिति में बच्चों को एक विषय की पढ़ाई का नुकसान तो है ही,संस्कृत विषय के शिक्षक को भी उपेक्षा का भाव आ रहा है।यद्यपि संस्कृत शिक्षक अपने प्रयास से बच्चों के पास की सामग्री बनाकर,लिखकर भेज रहे हैं,परंतु  बच्चे विषय शिक्षक से पूछते कि संस्कृत के वीडियो कहाँ हैं?जहाँ तक विभाग को या डिजिटल प्लेटफार्म पर कार्य करने वालों को संस्कृत की सामग्री न मिलने की समस्या है तो इस विषय में संस्कृत भारती माध्यभारात प्रान्त के जिला संयोजक रमेश चंद्र शर्मा ने बताया कि  संस्कृतभाषा के कार्य में नवाचार,प्रचार प्रसार,संवर्धन में हमारी संस्था ने आज अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर संस्कृत भाषा के संम्भाषण, अध्यापन, शिक्षण हेतु आधुनिक डिजिटल माध्यम में हजारों रोचक टी एल एम, वीडियो, ऑडियो, पोस्टर, पुस्तकें आदि बनाए हैं और उनसे बेहतर शिक्षण किया जा रहा है।कक्षाओं के शिक्षण में भी इनकी भूमिका सार्थक है।

डीपीसी का चार्ज जिला शिक्षा अधिकारी को सौंपा

गुना । कलेक्‍टर एस.विश्‍वनाथन द्वारा डिप्‍टी कलेक्‍टर गुना सुश्री नेहा सोनी के स्‍थानांतरण उपरांत गुना जिले से भारमुक्‍त किये जाने के फलस्‍वरूप जिला परियोजना समन्‍वयक जिला शिक्षा केन्‍द्र गुना का अतिरिक्‍त प्रभार अन्‍य आदेश होने तक अस्‍थाई रूप से जिला शिक्षा अधिकारी गुना को सौंपा गया है।

स्नातक एवं स्नातकोत्तर की परीक्षाएं स्थगित, आगामी तिथियाँ पृथक से जारी होगी

गुना ।   राज्य शासन द्वारा उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा विभाग की स्नातक एवं स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम की परीक्षायें स्थगित कर दी गई हैं। उच्च शिक्षा विभाग की परीक्षाएँ 29 जून से 31 जुलाई और तकनीकी शिक्षा विभाग की परीक्षाएँ 16 जून से 31 जुलाई तक निर्धारित थी। राज्य शासन द्वारा आगामी परीक्षा तिथियाँ पृथक से घोषित की जाएंगी।