बदमाश की दबंगई के आगे लाचार नजर आई गुना पुलिस

गुना । (शारदा एक्सप्रेस) बड़े-बड़े बदमाशों को सलाखों के पीछे पहुंचाने का दम भरने वाली गुना पुलिस आज एक कुख्यात बदमाश के आगे वायरल वीडियो में लाचार नजर आ रही है जहां बदमाश द्वारा पुलिस महकमे के एक आरक्षक की कालर पकड़कर पुलिस कर्मियों को अश्लील गालियां देते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहे हैं बताया जा रहा है कि यह वीडियो विजयपुर थाने का है जहां कुख्यात बदमाश रघु तोमर उर्फ रघु रोकड़ा के द्वारा पुलिस कर्मियों को अश्लील गालियां दी जा रही हैं । शोशल म़ीडिया पर ये वीडियो जिले भर में जमकर वायरल हो रहे हैं। वीडियो में एक कुख्यात बदमाश शराब के नशे में उत्पात मचाते हुए घूम रहा था और पुलिस जब उसे पकड़ने पहुंची तो बेखौफ बदमाश पुलिस से भिड़ गया। उसने न केवल पुलिसवालों से झूमाझटकी की बल्कि सरेआम गालियां और धमकी भी दीं। जब ये सब चल रहा था तब वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने मोबाइल से ये वीडियो बना लिए जो अब वायरल हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वीडियो 3 नवंबर की रात को विजयपुर थाना अंतर्गत हुए घटनाक्रम के बताए जा रहे हैं। जहां ग्राम दौराना में स्थित एक होटल पर बदमाश के उत्पात मचाने की सूचना पर पुलिस पहुंची थी। शराब के नशे में धुत्त बेखौफ बदमाश पुलिस वालों से भी उलझ गया, उसने वर्दीवालों की गिरेबान पकड़ी, झुमाझटकी की, उन्हें जमकर गालियां दीं और धमकी देता रहा। पुलिस कर्मियों ने बमुश्किल उसे काबू में किया और विजयपुर थाना लेकर पहुंचे। बदमाश द्वारा किए गए उत्पात और ऑन ड्यूटी पुलिस कर्मियों से की गई हाथा पाई, झूमाझटकी व गाली गलौज की सूचना भी जिम्मेदार अधिकारियों तक पहुंची। लेकिन इतने के बाद भी इस बदमाश पर एफआईआर दर्ज करने की हिम्मत कोई नहीं जुटा सका।सूत्र बताते हैं कि इस मामले में बदमाश पर शांति भंग करने की मामूली धारा लगाकर पुलिस ने खानापूर्ति कर ली और मेडिकल चैकअप के बाद उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर दिया। जहां से 7 नवंबर को उसे जमानत भी मिल गई। इस बीच ये वीडियो वायरल हो गए।वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि बदमाश कितना बेखौफ है। वह खुद का नाम लेकर पुलिस वालों को धमका रहा है। बदमाश रघु तोमर उर्फ रघु रोकड़ा पर पूर्व में दस हजार रुपए का ईनाम घोषित हुआ था। इस पर संगीन धाराओं में कई केस दर्ज हैं। कुछ दिनों पूर्व इसका लडकियों के साथ अश्लील डांस वीडियो भी वायरल हुआ था जिसमें एक पुलिसकर्मी भी डांस करते नजर आ रहा था, जिसे एसपी ने निलंबित कर दिया था। अब इन वीडियो के वायरल होने के बाद जनता सवाल कर रही है कि आखिर इस मामले में बदमाश पर एफआईआर दर्ज क्यों नहीं हुई। जबकि उसने ऑन ड्यूटी पुलिसकर्मियों के साथ हाथापाई, झुमझटकी, गाली गलौज, धमकी जैसी अपराधिक घटना सरेआम की है। सवाल उठ रहे हैं कि वो कौन लोग हैं जो इस बदमाश को संरक्षण देकर एफआईआर से बचा ले गए और अधिकारियों की भी ऐसी क्या मजबूरी रही कि वह भी वर्दी पर उठे हाथों को कानून का जामा पहनाने में नाकाम रहे। सवाल ये भी है कि क्या कोई और व्यक्ति पुलिस के साथ ऐसी घटना करता तो क्या वरिष्ठ पुलिस अधिकारी उसे भी इसी तरह नज़र अंदाज कर देते।

पुलिस अधीक्षक की अपील दिवाली पर मिट्टी के दिए खरीद कर करें घरों की सजावट

गुना । पुलिस अधीक्षक राजीव कुमार मिश्रा द्वारा दिवाली के अवसर पर मिट्टी के दिए खरीद कर घरों की सजावट करने की अपील की गई है। पुलिस अधीक्षक की मंशा अनुसार गुना पुलिस द्वारा सड़कों पर मिट्टी के दीए बेच रहे छोटे छोटे व्यवसायियों से मिट्टी के दिए खरीदे जा रहे हैं और उन दियों से ही दिवाली पर अपने घरों को रोशन करने के साथ ही गरीब तबके के लोगों में मिट्टी के दिए बांटे जा रहे हैं। इसी के चलते कोतवाली थाना, केंट थाना, वीनागंज चौकी, धरनावदा थाना, म्याना थाना, आरोन थाना,राधौगढ़ थाना सहित जिले के सभी चौकी थाना पुलिस द्वारा अपनी टीम के साथ बस्तीयों में जाकर लोगों को मिट्टी के दिए बांटकर दिवाली पर इन्हीं दियों का उपयोग करने की अपील की जा रही है । 

शहीद दिवस सप्ताह के अन्तर्गत गुना में कवि सम्मेलन आयोजित

गुना, ।  पुलिस विभाग गुना एवं विशेष सशस्त्र बल गुना के संयुक्त तत्वावधान में शहीद दिवस सप्ताह के अन्तर्गत 26वी वाहिनी के सभागार में डा सतीश चतुर्वेदी ‘शाकुन्तल’ की अध्यक्षता में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम कार्यक्रम की संयोजक सुश्री मोनिका जैन ने आमंत्रित कवियों का स्वागत किया। कवि सम्मेलन का संचालन करते हुए ओज कवि अनिरुद्ध सिंह सेंगर ने शहीदों को नमन करते हुए कहा- ‘अपने प्रण से कर्म कहानी लिख दी है, तूफानों के नाम जवानी लिख दी है। व्यर्थ नहीं जाएगा बलिदान तुम्हारा शहादत की अमिट कहानी लिख दी है।’ अध्यक्षता करते हुए डा सतीश चतुर्वेदी’शाकुन्तल’ने कहा-पिता से ले वज्र छाती, शत्रु के सम्मुख अड़े हो राष्ट्र के रक्षा कवच हो, देवताओं से बड़े हो। शाईर डा हरकांत’ अर्पित’ ने कहा-‘सोच बलिदान संकल्प हिंदुस्तान,कतरा कतरा ख़ून का देश पर कुर्बान। जो ठान लेते हैं वो कर गुजरते हैं हम चाहे जमीन, समन्दर या हो आसमान। गीतकार सुनील शर्मा ‘चीनी’ ने अपनी बात यूं कही-‘ना हिंदु ना ईसाई ना मुसलमान की बात करें। आओ कि हम फकत इंसान की बात करें। इकबाल ने जिसे कहा सारे जहां से अच्छा उस महान हिंदुस्तान की बात करें। शाईर प्रेम सिंह ‘प्रेम’ ने कहा-‘वह मुल्क को कैसे भी खा सकते हैं सियासी लोगों को क़ानून का डर नहीं होता। कत्ल सरेआम ही हो यह जरूरी तो नहीं कौन कहता है लफ़्ज़ों में ज़हर नहीं होता। अंत में आभार मोनिका जैन ने प्रकट किया। इस अवसर पर काफी संख्या में पुलिस बल और सशस्त्र बल के जवान उपस्थित रहे।

गांजे की तस्करी करते पांच अंतर्राज्यीय तस्कर गिरफ्तार, आरोपियों से 18 लाख 10 हजार रुपये का माल मशरुका जप्त

गुना । कोतवाली थाना पुलिस ने नशे के विरुद्ध एक और कार्यवाही करते हुये ट्रक मे अवैध रुप से गांजे का परिवहन करते हुये कुल 5 आऱोपियों को गिरफ्तार कर जनके कब्जे से 3 लाख 10 हजार रुपये कीमत का 21 किलो गांजा बरामद किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार तस्कर आरोन के रास्ते अवैध रुप से गांजा लेकर गुना होते हुये राजस्थान की ओर जा रहे थे ।पुलिस तत्काल हड्डीमील पहुंची एवं सडक पर स्टापर लगाकर चैकिंग की इसी दौरान रात करीब 9.30 बजे आरोन तरफ से ट्रक के आने पर पुलिस द्वारा स्टापर की सहायता से रोक लिया गया । ट्रक की तलाशी लेने पर पीछे लोहे की चादरें भरी थी वहीं ट्रक के केविन मे तलाशी लेने पर के प्लास्टिक के बोरे मे खाकी रंग के टेप से बने 19 पैकेट गांजे के मिले । आरोपियों के पास से मिले गांजे की कीमत करीबन 3 लाख10 हजार रुपये वताई जा रही है पुलिस ने ट्रक को विधिवत जप्त कर सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार किया जिनके विरुद्ध थाना कोतवाली मे एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर विवेचना मे लिया गया। गिरफ्तार आरोपियों से गांजा तस्करी के संबंध मे पूंछताछ कर और जानकारी जुटाई जा रही है एवं मामले मे स्थिति अनुसार आगे की कार्वयाही की जाऐगी।

छवडा कालोनी से हुई चोरी का मात्र 18 घंटे मे पर्दाफाश

गुना ।  कोतवाली पुलिस द्वारा छवडा कालोनी निवासी अंसार खान के यहां से दो मंहगे मोबाइलों की चोरी के मामले मे सघनता से कार्यवाही करते हुये मात्र 18 घंटे मे ही उक्त मोबाइल चोरी की बारदात का पर्दाफाश कर मामले मे दो आरोपियों को गिरफ्तार कर चोरी गये दोनो मोबाइल बरामद करने मे सफलता हासिल की गई है।उल्लेखनीय है कि 26 अकट्बर को फरियादी अंसार खान पुत्र मोहम्मद इरफान खान निवासी छवडा कालोनी ने गुना कोतवाली थाने मे रिपोर्ट करते हुये बताया था कि 18-19 की मध्य रात्रि मे किसी  अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसके घर मे घुसकर एक आईफोन 11 प्रो मैक्स मोबाइल कीमती 1,32,000 रुपये तथा दूसरा ओप्पो ए9 मोबाइल कीमती 15,500 रुपये का चोरी कर ले गया है, जिसकी रिपोर्ट पर से थाना कोतवाली मे प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया कोतवाली थाना प्रभारी मदन मोहन मालवीय द्वारा उक्त चोरी का खुलासा करने के लिये तत्काल एक टीम गठित कर मामले के अज्ञात आरोपियों की तलाश में लगाया गया। पुलिस द्वारा प्रकरण मे की गई गहन विवेचना, मुखबिर तंत्र एवं तकनीकी संसाधनों की मदद से छवडा कालोनी से हुई चोरी की उक्त बारदात को अंजाम देने मे दो आरोपियों गजेन्द्र उर्फ गज्जू पुत्र प्यारेलाल जाटव निवासी सकतरपुर रोड एवं  रवि उर्फ पारदी पुत्र नरेश रजक निवासी भुल्लनपुरा के रुप मे  तलाश की गई एवं जिन्हे विगत दिवस मुखबिर सूचना पर आरोन बस स्टेंड गुना से हिरासत मे लेकर  पूंछताछ करने पर उनके द्वारा दिनांक 18-19 की रात्रि मे छवडा कालोनी से उक्त मोबाइलों की चोरी करना स्वीकार किया एवं पुलिस द्वारा आरोपियों के कब्जे से प्रकरण मे चोरी गये दोनो मोबाइल कुल कीमती 1,47,500 रुपये के  बरामद कर लिये गये है।     

80 वर्ष की वृद्ध महिला के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले, आरोपी को आजीवन कारावास

सागर। तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश सागर के न्यायालय ने 80 साल की वृद्धा के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले आरोपी वीरेन्द्र पिता निरपत आदिवासी को दोषी पाते हुए आजीवन एवं 5 हजार रूपये का अर्थदण्ड से दंडित किया गया। प्रकरण में राज्य शासन की ओर से उप-संचालक (अभियोजन) अनिल कटारे  द्वारा पैरवी की गई। मीडिया प्रभारी ए.डी.पी.ओ. सौरभ डिम्हा ने बताया दिनांक 11.01.2019 को फरियादी ने थाना उपस्थित होकर रिपोर्ट लेख कराई कि उसकी मां जिसकी उम्र 80 साल है खेत पर टपरा बनाकर रहती थी, घटना दिनांक को जब सुवह फरियादी ने जाकर देखा तो उसकी मां मृत अवस्था में पडी थी एवं मुंह से खून निकल रहा था एवं पास में किसी अज्ञात व्यक्ति के जूते डले थे। उक्त रिपोर्ट पर मर्ग कायम कर मृतिका का पी.एम. कराया गया एवं बैंजाइल स्लाइड जप्त कर एफ.एस.एल. सागर को भेजा गया जिसमें वैज्ञानिक अधिकारी द्वारा वैजाइल स्लाइड में मानव शुक्राणु का पाया जाना लेख किया गया। पी.एम. रिपोर्ट एवं एफ.एस.एल. रिपोर्ट के आधार पर अज्ञात व्यक्ति के विरूद्ध प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान इसी थाने के पाॅक्सो के आरोपी वीरेन्द्र आदिवासी की डी.एन.ए. रिपोर्ट एवं  इस मामले के आरोपी की डी.एन.ए. रिपोर्ट एक ही पाये जाने पर, केन्द्रीय जेल सागर में परीरूद्ध आरोपी वीरेन्द्र आदिवासी को पी.आर. पर लेकर पूछताछ की गयी एवं मामले की जांच की गयी जांच में आरोपी के विरूद्ध अपराध सिद्ध पाये जाने पर प्रकरण पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया विवेचना के दौरान मर्ग इंटीमेशन, नक्सा मौका, एफ.एस.एल परीक्षण रिपोर्ट, डाॅक्टर की क्योरी रिपोर्ट, जप्ती रिपोर्ट, धारा 164 के कथन तथा अन्य महत्वपूर्ण साक्ष्य संकलित की गयी। विवेचना पूर्ण कर अभियोग पत्र माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया। उप-संचालक (अभियोजन) अनिल कटारे द्वारा प्रकरण में अभियोजन साक्षियों को परीक्षित कराया व अन्य साक्ष्य को सूक्ष्मता से प्रस्तुत किया गया एवं महत्वपूर्ण तर्क प्रस्तुत किये गये। प्रकरण में सहयोग सहा. जिला अभियोजन अधिकारी सौरभ डिम्हा द्वारा किया गया। न्यायालय द्वारा प्रकरण के तथ्य परिस्थितियों एवं अपराध की गंभीरता को देखते हुए व अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर आरोपी वीरेन्द्र पिता निरपत आदिवासी को दोषी पाते हुए 03 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 1000 रूपये का अर्थदण्ड धारा 376 भादवि में दोषी पाते हुए 14 वर्ष का सश्रम कारावास एवं 5000 रूपये का अर्थदण्ड और धारा 302 भादवि में दोषी पाते हुए आजीवन एवं 5000 रूपये का अर्थदण्ड से दंडित किया गया। प्रकरण में यह तथ्य भी उल्लेखनीय है कि पूर्व में आरोपी वीरेन्द्र आदिवासी को थाना सानौधा के अपराध  पाॅक्सो में विशेष न्यायालय (पाॅक्सो) द्वारा आरोपी को मृत्यूदंड से दंडित किया गया था। 

अंधे कत्ल का हुआ पर्दाफाश, बेटा ही निकला अपने पिता का हत्यारा

गुना ।  जिले के म्याना थाना क्षैत्रांतर्गत 2 अगस्त को ग्राम सुताई मे डाँ. सचिन सोनी एवं डाँ अनुपम चौधरी के कृषिफार्म पर बनी टपरिया मे उनके बटियादार भागीरथ कुशवाह की खून से सनी लाश पडी होने की सूचना म्याना पुलिस को मिली थाना प्रभारी म्याना तत्काल घटना स्थल पर पहुंचे एवं घटना से पुलिस अधीक्षक अवगत कराया। उक्त घटना पर से म्याना थानेमे पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। म्याना थाना प्रभारी आमोद सिंह राठौर द्वारा लाश एवं घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण कर आवश्यक साक्ष्य जुटाये गये। प्रारंभिक परीक्षण मे मृतक के सिर मे गंभीर चोट पहुंचाकर हत्या करना पाया गया। पुलिस द्वारा मृतक का पीएम कराया जाकर मामले की विवेचना प्रारंभ की गई । हत्या के इस प्रकरण मे पुलिस द्वारा गहन विवेचना की  गई एवं संदेह के दायरे मे आने वाले सभी व्यक्तियों से कडी पूंछताछ की गई। पुलिस द्वारा की गई पूंछताछ मे पुलिस के शक की सुई मृतक के बडे पुत्र भोला कुशवाह पर गई और विगत 26 अक्टुबर को म्याना थाना प्रभारी आमोद सिंह राठौर एवं उनकी टीम द्वारा भोला कुशवाह को हिरासत मे लेकर हत्या के संबंध मे पूंछताछ की गई तो वह पहले तो पुलिस को गुमराह करता रहा लेकिन जब पुलिस द्वारा उसे घटना से संबंधित उसके कुछ साक्ष्य दिखाये गये तो वह टूट गया और अपने पिता मृतक भागीरथ कुशवाह की हत्या का सारा राज उगल दिया जिसने बताया कि उसके मृतक पिता द्वारा 30 जुलाई को उसकी पत्नि का हाथ पकडकर गलत काम करने के लिये बोला गया था यह बात जब पत्नि द्वारा मुझे बताई गई तो उसे अपने पिता पर बहुत गुस्सा आया और उसी समय अपने पिता को  जान से मारने की सोच ली थी। और वह 2 अगस्त की सुबह सकतपुर से ग्राम सुताई स्थित बंटाई वाले खेत  पर पहुंचा जहां उसके पिता टपरिया मे रोटी बना रहे थे मैने टपरिया के बाहर रखी  कुल्हाडी को उठाकर पिता के सिर मे उल्टी कुल्हाडी मारी जिससे पिता की मृत्यु हो गई और इसके बाद वहां से वह अपने घर ग्राम सकतपुर आ गया था।

चलित खाद्य प्रयोगशाला ने वीक़ानेर मिष्ठान भंडार, राजस्थानी कचौडी़, राजेश रेस्टोरेन्ट सहित कई दुकानों से लिऐ खाद्य सामग्री के नमूने

गुना । कलेक्टर फ्रेंक नोबल ए. के निर्देशानुसार जिले में मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत एवं आगामी त्यौहार के दृष्टिगत खाद्य सुरक्षा अधिकारियों द्वारा सतत् निरीक्षण एवं नमूना कार्य किया जा रहा है। अभियान अंतर्गत अनुविभागीय अधिकारी गुना के निर्देश पर संभागीय चलित खाद्य प्रयोगशाला द्वारा 26 अक्‍टूबर को गुना नगर में भ्रमण किया गया । इस दौरान संभागीय चलित खाद्य प्रयोगशाला द्वारा आम उपभोक्ताओं एवं प्रतिष्ठानों से 33 नमूनों की जॉच की गई। उक्त नमूनों में से कुल 5 नमूनें संदिग्ध पायें गयें। खाद्य सुरक्षा अधिकारियों नें संदिग्ध नमूनों सहित अलग अलग प्रतिष्ठानों से कुल 7 नमूनें जॉच हेतु संग्रहित कर प्रयोगशाला भेजे गये है। प्रतिष्ठान चंदेल डेयरी एवं रेस्टोरेन्ट हाट रोड गुना से मलाई बर्फी एवं देशी घी का नमूना, राजस्थानी कचौडी़ कार्नर हाट रोड गुना से मलाई बर्फी एवं सेव का नमूना, राजेश रेस्टोरेन्ट हनुमान चौराहा से पेडा़ का नमूना, बीकानेर मिष्टान भंडार जय स्तम्भ चौराहा से बर्फी एवं घी के नमूने जॉच हेतु लिये गये। खाद्य पदार्थो में की जाने वाली इसके साथ ही सामान्य मिलावट के बारे में आम नागरिकों जानकारी देकर जागरूक किया गया। अभिहित अधिकारी गुना द्वारा खाद्य सुरक्षा अधिकारियों को सतत् कार्यवाही के निर्देश दिये गये हैं, जिससे त्योहारों पर आम नागरिकों का मिलावटरहित खाद्य सामग्री उपलब्ध हो सके।

आबकारी विभाग द्वारा 70 लीटर हाथ भट्टी की मदिरा जप्‍त

गुना । कलेक्टर फ्रेंक नोबेल ए. के आदेशानुसार जिला-गुना मे आबकारी विभाग द्वारा अवैध मदिरा के विनिर्माण, विक्रय, संग्रह एवं परिवहन के विरुद्ध की जा रही सतत् कार्यवाहियों के तारतम्य में जिला आबकारी अधिकारी जगन्नाथ किराडे के निर्देशन एवं सहायक जिला आबकारी अधिकारी आर एस मीणा के नेतृत्व मे पटेल नगर गुना मे आरोपी हरफूल पारधी पुत्र बरबरिया पारधी के घर से 70 लीटर हाथ भट्टी मदिरा जब्त कर उसके विरुद्ध मध्य प्रदेश आबकारी अधिनियम 1915 संशोधित 2000 की धाराओं 34(1)क एवं34(2)का प्रकरण पंजीबद्ध किया गया । अन्य दो प्रकरणों मे ग्राम-झिर एवं मोहरी से क्रमशः 90किलाग्राम,120 किलोग्राम लाहन जब्त कर अज्ञात आरोपियो के विरुद्ध मध्य प्रदेश आबकारी अधिनियम की धारा 34(f) के प्रकरण पंजीबद्ध किये गए। उक्त कार्यवाहियों मे आबकारी प्रधान आरक्षक प्रेम नारायण नामदेव, आबकारी आरक्षकों अरूण कुमार शर्मा, भावना दुबे का विशेष सहयोग रहा।

मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत खाद्य विभाग द्वारा लगातार छापामार कार्रवाई जारी

गुना । कलेक्टर फ्रेंक नोबल ए. के निर्देश पर मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत खाद्य सुरक्षा प्रशासन द्वारा लगातार निरीक्षण एवं नमूना कार्यवाही की जा रही है l रात्रिकालीन बसों में त्यौहार के समय मिलावटी मावा के परिवहन सम्भावना को देखते हुए खाद्य सुरक्षा अधिकारियो द्वारा बसों को चेक किया जा रहा है l उक्त कार्यवाही दौरान रात्रि में बस स्टैंड पर बसों की जाँच दौरान धर्मेन्द्र ट्रेवल्स की बस जो ग्वालियर से इंदौर जा रही थी में 100 किलोग्राम लगभग मावा रखा हुआ था, जो प्रथम दृष्टया मिलावटी प्रतीत हो रहा था l उक्त मावे की जानकारी निकालने पर बस ड्राइवर द्वारा बताया गया की उक्त मावा ग्वालियर से अवदेश शिवहरे द्वारा रखा गया l ड्राइवर द्वारा उक्त व्यक्ति से टेलीफोन से बात करवाई गयी तो उक्त व्यक्ति द्वारा स्वीकार किया की मावा उसके द्वारा बस में रखा गया है जिसे गंजबसोदा भेजा जा रहा था l उक्त मावा संदिग्ध लगने उक्त व्यक्ति को बुलवाया गया l उक्त मावे को आगामी कार्यवाही तक के लिए कोतवाली गुना में रखवाया गया l सुबह 12 बजे अवधेश शिवहरे निवासी ग्वालियर उपस्थित हुआ एवं उक्त मावे को अपना बताया गया l अवधेश शिवहरे से उक्त संदिग्ध मावे का नमूना जाँच हेतु लिया गया एवं शेष मावा 99 किलोग्राम विधिवत जप्त किया गया जिसकी कीमत  25000.00 रुपए है l प्रकरण में नमूने जाँच हेतु प्रयोगशाला भेजे जा रहे है l खाद्य एवं औषधि प्रशासन के औषधि निरीक्षक शोभित कुमार तिवारी द्वारा मकसूदनगढ़ क्षेत्र में मेसर्स यादव मेडिकल स्टोर, शारदा मेडिकल स्टोर, गायत्री मेडिकल स्टोर, उकावद में श्री राम मेडिकल स्टोर, श्याम मेडिकल स्टोर एवं जामनेर में मानसी मेडिकल स्टोर के औचक निरीक्षण किये गए तथा मौके पर रिपोर्ट तैयार की गई है | इस माह में जिले में स्थित विभिन्न औषधि विक्रय संस्थानों से अभी तक 10 औषधियों के नमूने जाँच/विश्लेषण हेतु लिए जाकर राज्य औषधि परीक्षण प्रयोगशाला भेजे गये है, जहाँ से जाँच रिपोर्ट प्राप्त होने पर आगामी कार्यवाही की | भ्रमण के दौरान औषधि निरीक्षक द्वारा मेडिकल स्टोर संचालकों को हिदायत दी गई की औषधि का विक्रय औषधि एवं प्रशाधन सामग्री अधिनियम 1940 एवं नियमावली 1945 के प्रावधानों के अनुसार ही करें | कलेक्टर के निर्देशानुसार खाद्य एवं औषधि प्रशासन द्वारा औषधि विक्रय संस्थानों पर निरंतर निरीक्षण कार्यवाही जारी है |