स्वच्छता के नाम पर डिंडोरा पीटने वाली नगर पालिका के दावों की सच्चाई, गंदगी भरे ठिकानों ने की शहर की फिजा खराब

लाख प्रयास करने के बाद ही नहीं हुआ सुधार

गुना । शहर में गंदगी का गढ़ माने जाने वाले (हॉट रोड, बौहरा मस्जिद कंपलेक्स, व जाटपुरा) इन तीन ठिकानों ने पूरे शहर की फ़िजा को खराब कर के रख रखा है। शहर की साफ सफाई के नाम पर करोड़ों रुपए किए खर्च, मगर आज भी स्थिति जस की तस बनी हुई है।बेशुमार गंदगी के मारे स्थानीय लोगों व यहाँ से आने जाने वालों लोगों का है बुरा हाल है । शहर में गंदगी का गढ़ माने जाने वाले स्थानों पर डस्टबिन की व्यवस्था नहीं हो पाई है ।मगर प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों व कर्मचारियों की मक्कारी की  “दाद”  देना पड़ेगी। जिन से 50 बार शिकायत करने के बाद भी, आज दिनांक तक कोई सुधार देखने को नहीं मिला । खैर आम लोगों की समस्या या परेशानी से इन्हें क्या लेना देना। क्या ऐसे ही बनेगा गुना शहर स्वच्छता में नंबर वन ?
वर्तमान स्थिति में स्वच्छता में नहीं, गंदी में नंबर वन है की कतार में नजर आता है गुना शहर। नगर प्रशासन के लिए यह एक चुनौती है,  अब देखना होगा कि जिम्मेदार इस चुनौती का मुकाबला करने में किस हद तक सफल होंगे।

Leave a Comment