वन चौकी में उधम कर व गाली गलौज मामले ने पकड़ा राजनीतिक रंग , वनमण्डलाधिकारी से की कार्यवाही की मांग

गुना । गुना वनमंडल की बमोरी तहसील अंतर्गत आने बाले जंगलो में लगातार धडल्ले से कुल्हाड़ी चल रही है जिससे दिन व दिन जंगल समाप्त होते जा रहे है इसी को लेकर अब राजनैतिक दलों के लोग भी जंगल को बचाने के लिए आगे आने लगे है । गुरुवार 26 अगस्त को कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ.ओ.पी.त्रिपाठी ने वनमंडल अधिकारी को एक आवेदन देते हुऐ वन भूमी पर हुऎ अवैध अतिक्रमण व कब्जे, जंगल कटाई, रेंज कार्यालय में घुसकर गाली गिलोंच करने व शासकीय काम में वाधा डालने वाले वन माफियाओं पर आपराधिक मामले दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की मांग की है । 

फतेहगढ़ व बमोरी रेंज में मिलीभगत से हो रहा अबैध अतिक्रमण – ज्ञात हो कि फतेहगढ़ व बमोरी रेंजों में लगातार अवैध तरीके से वनभूमि पर जुताई सफाई की जा रही है बिगत एक बर्ष में हजारों हेक्टेयर वनभूमि पर अवैध तरीके से अतिक्रमण कर लिया गया है ये कहीं न कही नीचे से लेकर ऊपर तक वनाधिकारियों की मिलीभगत से ही सम्भव है ।
बमोरी रेंज में जोरो पर अवैध उत्खनन – बमोरी रेंज अंतर्गत झुमका , लपचोरा , सोंखरा , पाटन में बड़े पैमाने पर मुरम एवम पत्थर का उत्खनन जारी है खनन माफिया जंगल को चीरकर अवैध तरीके से लगातार उत्खनन कर रहे है एवम वन अमला मूकदर्शक बनकर देखने के अलावा अन्य कोई कार्यवाही नही कर पा रहा है ।
फतेहगढ़ रेंज के घेराव के आरोपी पर नही कोई कार्यवाही – हाल ही में एक कार्यवाही के बाद आरोपियों के द्वारा फतेहगढ़ रेंज का घेराव करते हुए वन अमले को जान से मारने की धमकी दी गयी थी किन्तु  अभी तक उक्त आरोपियों पर पुलिस एवम वन विभाग के द्वारा कोई कार्यवाही नही की गई है वही सूत्रों से जानकरी से जानकरी अनुसार कल एक बार फिर से वन माफिया ने वनरक्षक के साथ मारपीट की है आखिर कब तक वनमाफ़ियों के हाथों वनकर्मचारी ऐसे ही मारपीट का शिकार बनते रहेंगे ।

Leave a Comment