लापरवाह डॉक्टरों का कारनामा आया सामने, डॉक्टरों ने किया था मृत घोषित वह कैसे हुआ जिंदा मामला जिदा

गुना । जिला चिकित्सालय के प्रसूति गृह में एक बेहद ही दिलचस्प मामला सामने आया जहां डॉक्टरों ने डिलीवरी कराने आई प्रसूता महिला के पेट में बच्चे को मरा घोषित कर दिया गया । डॉक्टरों ने प्रसूता महिला के परिजनों से कहा की आप की पत्नी के पेट में बच्चा मर चुका है और पूरे शरीर में जहर फैलने की संभावना है प्रसूता महिला की हालत गंभीर है महिला को बचाने के लिए आईसीयू सुविधा गुना में उपलब्ध नहीं है इसलिए तत्काल इनको भोपाल ले जाकर भर्ती करा दें । इसके बाद आनन-फानन में प्रसूता के परिजन प्रसूता को एंबुलेंस के माध्यम से भोपाल ले गए जहां अस्पताल में प्रसूता को भर्ती कराने के बाद सुबह लगभग 6:00 बजे नार्मल डिलीवरी हुई जिसमें बच्चा एवं उसकी मां दोनों सुरक्षित निकले यहां देखने में आया कि गुना जिले के डॉक्टर कितने बड़े लापरवाह हैं जिन्होंने एक प्रसूता महिला के परिजनों को प्रसूता के पेट में बच्चा मरा हुआ बता दिया इससे यह स्पष्ट हो जाता है की डॉक्टर कार्य के प्रति कितनी लापरवाही बरतते हैं यह मामला एक समाजसेवी के माध्यम से मीडिया तक पहुंचा जिसने सोशल मीडिया पर भी इस पूरे घटनाक्रम का उल्लेख कर पोस्ट वायरल कर लापरवाह डॉक्टरों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की ।

Leave a Comment