महिला के साथ पति ससुर देवर व जेठ ने की मारपीट पुलिस ने किया विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज

गुना । लाख सरकारें कुछ भी कहती रहे लेकिन महिलाओं को लेकर आज भी एक हीन भावना पुरुष वर्ग में देखी जाती है महिला सशक्तिकरण की बात कहने वाले इस समाज में भी महिलाओं को अपना अस्तित्व बचाने के लिए आज भी जूझना पड़ रहा है महिलाओं को लेकर यह धारणा आखिर क्यों बनी हुई है कि वह अपने दम पर कुछ नहीं कर सकती और आए दिन महिलाओं को इसी कारण से उत्पीड़न का शिकार होना पड़ता है इन सबके बाद भी हीन भावनाऐं और मानसिक तथा शारीरिक प्रताड़ना केवल महिलाओं के ही नसीब में होती है ।

इसी से जुड़ा एक मामला : 11 फरवरी को पीड़िता के पिता द्वारा सिरसी थाने में मामला दर्ज कराया गया था कि बांसखेड़ी गाँव में उसने अपनी बेटी का विवाह किया था लेकिन वह किसी और व्यक्ति के साथ रह रही थी इसी बात को लेकर उसकी बेटी के पहले पति देवर जेठ व ससुर ने उसकी बेटी के साथ मारपीट की है ।महिला के अनुसार उसकी शादी बांस खेड़ी में हुई थी जिसके बाद पति ने उसके छोड़ने की बात कही जिस पर दोनों पति पत्नी ने सहमति जताते हुए पत्नी को दूसरे युवक के साथ जाने को हां कर दिया पीड़ित महिला के अनुसार एक अन्य युवक के साथ तकरीबन एक माह से रह रही थी और इसके बाद अचानक एक दिन पुराने ससुराल पक्ष से उसके ससुर जेठ देवर एवं पति मिलाकर महिला के नई ससुराल यानी सागई गांव पहुंचे बता दें कि  गांव से बांसखेड़ी जाने का रास्ता 3 किलोमीटर का है और इस दौरान पीड़ित महिला के अनुसार देवर एवं जेठ महिला के कंधे पर बैठ गया और उसे पीटते हुऐ पैदल लेकर गए । 
वहीं इस पूरे मामले में सिरसी पुलिस ने अपराध क्रंमाक 19/21 धारा 323,506,294 , 34 ipc के तहत केस दर्ज किया है । मामला चाहे जो भी हो पर इस मामले में प्रशासन को थोड़ा सख्त कदम उठाना जरूरी है जिसके चलते लोगों में महिलाओं के प्रति संवेदनशीलता आ सके ।

Leave a Comment