फतेहगढ़ रेंज में फिर एक बार वनकर्मी से झूमा झटकी ओर गाली गलौच

गुना । वन मंडल गुना आज प्रदेश में वनभूमि पर हुए अतिक्रमण में प्रथम स्थान प्राप्त कर कर बैठा है वही वन विभाग के आला अधिकारियों के उदासीन रवैये ने अतिक्रमणकारियों को अतिक्रमण करने के लिए और क्लीन चिट दे दी है बमोरी क्षेत्र से अतिक्रमणकारी हजारों हेक्टेयर वनभूमि से जंगलों का नामोनिशान मिटाकर खेतों में तब्दील कर चुके हैं वही राजनैतिक संरक्षण के चलते छोटी मोटी कार्रवाई करने वाले वन रक्षकों की जान पर बन आती है । वन भूमि पर लगातार हो रहे अतिक्रमण पर वन विभाग के आला अधिकारीयों की चुप्पी क्षेत्र से अतिक्रमण और विवादों के रूप में स्पष्ट रूप से देखी जा सकती है ।
ताजा मामला फतेहगढ़ रेंज से एक वनकर्मी के साथ शिकारी समुदाय के कुछ लोगों द्वारा झूमा- झटकी, अश्लील गालियाँ देने व जान से मारने की धमकी का मामला प्रकाश में आया है । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उक्त घटनाक्रम होने के बाद वनकर्मी अपनी फरियाद लेकर फतेहगढ़ थाने में भी पहुंचा था लेकिन पुलिस द्वारा आवेदन लेकर उसे चलता कर दिया गया ।
आवेदक के द्वारा पुलिस को दिए आवेदन अनुसार फतेहगढ़ रेंज प्रभारी के मौखिक आदेशानुसार बीटगार्ड पूर्वी फतेहगढ़ , शासकीय कार्य करवा रहा था तभी डोवरा रोड पर पहलवान शिकारी , हेमराज शिकारी ने मौके पर आकर मेरे साथ झूमाझटकी की व मा बहन की गंदी गन्दी गालिया दी वही दुबारा बीट में आने पर हाथ पैर काटने व जान से मारने की भी धमकी दी ऐसी स्थिति में वनकर्मी शासकीय कार्य कर पाने में अपने आप को असमर्थ पा रहा है ।
वही इस मामले में वनमण्डलाधिकारी गुना से सम्पर्क करने पर उनका मोबाइल नेटवर्क से बाहर आया ।

Leave a Comment